Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

Karnataka Solutions for Class 8 Hindi वल्लरी Chapter 14 जीवनधात्री-वर्षा

You can Download जीवनधात्री-वर्षा Questions and Answers Pdf, Notes, Summary Class 8 Hindi Karnataka State Board Solutions to help you to revise complete Syllabus and score more marks in your examinations.

जीवनधात्री-वर्षा Questions and Answers, Notes, Summary

I.एक वाक्य में उत्तर लिखिए :

प्रश्न 1.
जीवन के लिए क्या अनिवार्य है ?
उत्तरः
जीवन के लिए पानी अनिवार्य है ।

प्रश्न 2.
पानी के स्रोत कौन-कौन-से हैं ?
उत्तरः
पानी के स्रोत हैं – नदी, नाला, सागर आदि ।

प्रश्न 3.
मानसून की हवाएँ क्या लाती हैं ?
उत्तरः
मानसून की हवाएँ वर्षा लाती है।

प्रश्न 4.
वर्षा नहीं होती तो क्या होता है ?
उत्तरः
वर्षा नहीं होती तो अकाल पड़ता है।

प्रश्न 5.
शुद्ध जल का स्रोत क्या है ?
उत्तरः
शुद्ध जल का स्रोत वर्षा का जल है।

II.दो-तीन वाक्यों में उत्तर लिखिए :

प्रश्न 1.
बादल कैसे बनते हैं ?
उत्तरः
सूरज की गर्मी से सागर, तालाब, झील आदि का जल बाष्प बनकर ऊपर उठता है। इस बाष्प से बादल | बनते हैं।

प्रश्न 2.
हवा में रहनेवाले बाष्प से पानी की बूंदें कैसे बनती हैं ?
उत्तरः
बादल जब ठंडी हवा से टकराते हैं तो इनमें रहनेवाले बाष्प के कण पानी की बूंदें बन जाते हैं ।

प्रश्न 3.
अकाल से क्या-क्या हानियाँ होती हैं?
उत्तरः
अकाल से खेत सूख जाते हैं और गाय, बैल आदि जानवर मरने लगते हैं।

प्रश्न 4.
वर्षा कब होती है ?
उत्तरः
बादल जब ठंडी हवा से टकराते हैं तो इनमें रहनेवाले बाष्प के कण पानी की बूंदें बन जाते हैं। बूंदेवाले बादल भारी होकर जब धरती की आकर्षण शक्ति से खींचे जाते हैं, तब वर्षा होती है।

प्रश्न 5.
वर्षा नहीं होती तो क्या होता है?
उत्तर:
वर्षा नहीं होती तो अकाल पड़ता हैं। खेत सूख जाते हैं और गाय, बैल आदि मरने लगते हैं ।

प्रश्न 6.
बाढ़ किसे कहते हैं?
उत्तरः
जब बहुत ज्यादा वर्षा होती है तो नदियाँ अपने किनारों को तोड़कर बहने लगती हैं। इसको बाढ़ कहते हैं।

III. शब्द और अर्थ का मिलान कीजिए :
KSEEB Solutions for Class 8 Hindi वल्लरी Chapter 14 जीवनधात्री-वर्षा 2

IV. नमूने के अनुसार शब्द बनाइए :

  1. गति → दुर्गति
  2. गंध → दुर्गुध
  3. गुण → दुर्गति
  4. भाग्य → दुर्भाग्य

V. नमूने के अनुसार विलोम शब्दों को जोड़िए :
KSEEB Solutions for Class 8 Hindi वल्लरी Chapter 14 जीवनधात्री-वर्षा 7

VI.नमूने के अनुसार एक साथ आनेवाले शब्दों को लिखिए :

नमूना :नदी – नाला

  1. खाना – पाना
  2. पशु – पक्षी
  3. पेड़ – फल
  4. रोना – हँसना

VII.नमूने के अनुसार प्रेरणार्थक क्रिया रूप लिखिए :

नमूना :खींचना , खिंचाना

  1. सीखना → सिखाना
  2. पीटना → पिटाना
  3. सीना → सिलाना
  4. पीना → पिलाना

VIII. नमूने के अनुसार अन्य वचन रूप लिखिए :

KSEEB Solutions for Class 8 Hindi वल्लरी Chapter 14 जीवनधात्री-वर्षा 3

IX. वाक्यों में प्रयोग कीजिए :

  1. ऊपर उठना : कुएँ से पानी ऊपर उठाना चाहिए ।
  2. बादल बनना : बाद ऊपर उठकर बादल बनना चाहते हैं ।
  3. टकराना : बादल ठंडी हवा से टकराना चाहते हैं ।.
  4. खींचना : धरती के ओर वर्षा को खींचना है। बैलगाड़ी को खींचना चाहते हैं
  5. रोचक : भीम और राक्षस एक रोचक कहानी है
  6. प्रतीक्षा : किसान वर्षा के लिए प्रतीक्षा की

X. सूची बनाइए :
वर्ष पानी का मूल है। वर्षा अधिक होने पर भी हानियाँ होती हैं और वर्षा न होने पर भी हानियाँ होती हैं। इन हानियों की सूची बनाइए:
KSEEB Solutions for Class 8 Hindi वल्लरी Chapter 14 जीवनधात्री-वर्षा 6

XI. वर्गों में से पालतू जानवर और जंगली जानवारों के नाम ढूँढकर नीचे लिखिए :

KSEEB Solutions for Class 8 Hindi वल्लरी Chapter 14 जीवनधात्री-वर्षा 4

XII. उत्तर लिखिए :

प्रश्न 1.
अधिक वर्षा के कारण पानी नदियों के किनारों को तोड़कर बाहर बहने लगता है, तो उसे बाढ़ कहते हैं; पर वर्षा न होने पर खेत सूख जाते हैं, तो उसे क्या कहते हैं?
उत्तर :
अकाल पड़ता है ।

प्रश्न 2.
शुद्ध पानी पीने से आदमी स्वस्थ रहता है। गंदा पानी पीने से आदमी को कौन-सी बीमारियाँ होती हैं?
उत्तर :
शरीर अस्वस्थ होता है। खांसी आती है। बुखार आता है आदि।

प्रश्न 3.
नदी के पानी का उपयोग किस-किस के लिए होता है?
उत्तर :
ज़मीन खींची जाती है, ऊर्जा-उत्पादन करते हैं ।

भाषा-ज्ञान
I. निम्न क्रिया शब्दों के प्रेरणार्थक रूप लिखिए :
KSEEB Solutions for Class 8 Hindi वल्लरी Chapter 14 जीवनधात्री-वर्षा 5

II. निम्न वाक्यों में प्रथम प्रेरणार्थक रूप का प्रयोग कीजिए :

  1. हमें राजू को शहर में घुमाना है। (घूम)
  2. बच्चों को खेल सीखना है। (सीख)
  3. रेणु को आज रात जल्दी सुलाना है। (सोना)
  4. त्योहार के लिए नए कपड़े दिलाना है। (देना)
  5. बूढ़ों को खिलाना है। (खाना)

जीवनधात्री-वर्षा Summary in Hindi

जीवनधात्री-वर्षा पाठ का सारांश:

Water is very essential for human beings. Rivers, canals, seas, oceans etc. are the sources of water. Rain is the main source of water tanks, rivers, ponds and oceans. Water is evaporated by sun’s rays. Evaporated water is stored in clouds. When clouds get contacted with cold wind, it converts into rain drops and falling on the earth.

Like this water turns into vapour, vapour into clouds, clouds into rain. This is the water cycle and very curious. Like Europe, in Asia continental raining will not be on all the 12 months. Monsoon winds willa bring rainy season. In summer and winter, rains will not be there usually. So people wait for the rainy season. If proper raining does not occur, the people have to face drought.

The fields will be dry, there will be no drinking water for cattles and human beings. Sometimes more rains and floods will be there. Rain water is the pure source of water. Chirapunji is the highest rain receiving place in India. Water is needed for drinking, cooking, washing and all daily needs like bathing etc. Water is also needed for watering trees-plants. “Without water there is no world”.

जीवनधात्री-वर्षा Summary in Kannada

जीवनधात्री-वर्षा Summary in Kannada 1
जीवनधात्री-वर्षा Summary in Kannada 2
KSEEB Solutions for Class 8 Hindi वल्लरी Chapter 14 जीवनधात्री-वर्षा 1

KSEEB Solutions for Class 8 Hindi

Leave a Comment