Karnataka Solutions for Class 9 Hindi वल्लरी Chapter 12 सड़क की रक्षा – सबकी सुरक्षा

You can Download सड़क की रक्षा – सबकी सुरक्षा Questions and Answers Pdf, Notes, Summary Class 9 Hindi Karnataka State Board Solutions to help you to revise complete Syllabus and score more marks in your examinations.

सड़क की रक्षा – सबकी सुरक्षा Questions and Answers, Notes, Summary

अभ्यास

I. एक वाक्य में उसर लिखिए :

प्रश्न 1.
मिमु कौन-सी कक्षा में पढ़ रहा था ?
उत्तर:
विमु नौवी कक्षा में पढ़ रहा था।

प्रश्न 2.
सडक पर किसीने क्या फेंक दिया था ?
उत्तर:
सडक पर किसी ने केले का छिलका फेंक दिया था।

प्रश्न 3.
सड़क के बीच-बीच में विभु ने क्या देखा ?
उत्तर-
सडक के बीच-बीच में विभु ने कई गडढे देखे ।

प्रश्न 4.
सड़क को किसकी चिंता नहीं है ?
उत्तर:
सड़क को अपने रूप की कोई चिंता नही है ।

प्रश्न 5.
सड़क के साथ अन्याय करनेवालों पर क्या होनी चाहिए ?
उत्तर:
सङ्क के साथ अन्याय करनेवालों पर कास्याई होनी चाहिए।

प्रश्न 6.
विमु ने किसके मार्गदर्शन में प्रयास करने की बात सोची ?
उत्तर:
यमुने अपने अध्यापक के मार्गदर्शन में प्रयास कस्ने की सोची।

II. दो-तीन वाक्यों में छतर लिखिए :

प्रश्न 1.
विभु क्यों दौड़ता हुआ स्कूल जा रहा था ?
उत्तर:
विभु जब केले के छिलके पर पैर रखने से सड़क पर गिर गया तो एक आवाज आई। ‘उठो बेटा, उदास मत होओ’ – कहीं से आवाज़ आयी। उसने आगे-पीछे देखा। कोई दिखाई नहीं दिया। यह सब देखकर विभु चौंक गया।

प्रश्न 2.
विभु क्यों चौंक गया ?
उत्तर:
सडक पर विभु को कहीं से आवाज आई। उसने आगे-पीछे देखा तो कोई नजर नहीं आया। इसलिए विभु चौंक गया।

प्रश्न 3.
लोग सड़क के प्रति अपनी निर्ममता कैसे प्रकट करते हैं ?
उत्तर:
लोग सड़क को काट देते है और महीनों – महीनों घाव नही भरते। ढेर सारा कूए-कचरा डालते है। इस तरह लोग सडक के प्रति अपनी निर्ममता प्रकट करते है।

प्रश्न 4.
सडक को काटने का काम किसने किया था ?
उत्तर:
सडक को काटने का काम जल वितरण विभाग नए मकान बनाने वाले तथा सार्वजनिक कार्य विभाग इन्होंने किया था।

प्रश्न 5.
विभु ने सड़क को सांत्वना देते हुए क्या कहा ?
उत्तर:
विमु ने सडक को सांत्वना देते हुए कहा, मत रो माँ। तुम्हारी खुशी के लिए हम कोई न कोई उपाय करेंगे।

प्रश्न 6.
विभु ने अंत में क्या तय किया ?
उत्तर:
अंत में विभु ने तय किया कि वह अपने साथियों से चर्चा करके, अपने अध्यापक के मार्गदर्शन में इस दिशा में कुछ प्रयास अवश्य करेगा।

III. रिक्त स्थान भरिए :

  1. विभु को ______ बजे तक स्कूल पहुँक्ना था।
  2. वह ______ पर दौड़ता हुआ जा रहा था।
  3. सङक को तो हमेशा ______ लगती रहती है।
  4. लोग महीनों महीनों सड़क के ______ नहीं मरते।
  5. लोगों में सड़क की ______ का भाव हो।
  6. लोग ______ का ध्यान रखें।

उत्तर:

  1. विभु को साढे नौ बजे तक स्कूल पहुँक्ना था।
  2. वह सड़क पर दौड़ता हुआ जा रहा था।
  3. सङक को तो हमेशा चोट लगती रहती है।
  4. लोग महीनों महीनों सड़क के घाव नहीं मरते।
  5. लोगों में सड़क की सुरक्षा का भाव हो।
  6. लोग सफाई का ध्यान रखें।

IV. अन्य वचन रूप लिखिए :

उदा : 1. कला-काले       1. लोग-लोग          1. आवाज-आबाजें

KSEEB Solutions for Class 9 Hindi वल्लरी Chapter 12 सड़क की रक्षा - सबकी सुरक्षा 2

V. यातायात – साधनों के नाम लिखिए :

KSEEB Solutions for Class 9 Hindi वल्लरी Chapter 12 सड़क की रक्षा - सबकी सुरक्षा 3

VI. दो-दो पर्यायवाची शब्द र लिखिए :

  1. साफ
  2. खुशी
  3. स्कूल
  4. साथी
  5. सूरत
  6. आदमी
  7. पानी

उत्तर:

  1. साफ – स्वच्छ, शुद्ध
  2. खुशी – संतोष, आनंद
  3. स्कूल – पाठशाला, विद्यालय
  4. साथी – दोस्त, मित्र
  5. सूरत – चेहरा, मुख
  6. आदमी – मनुष्य, मानव
  7. पानी – जल, नीर

VII. किन-किन फलों को छिलके के साथ खा सकते हैं ? किनको नहीं ? एक सूची बनाइए :

छिलके के साथ

  1. सेब
  2. अमरुद
  3. कच्चा
  4. अंगूर
  5. स्ट-वेरी

छिलका निकालकर

  1. केला
  2. पपया
  3. आम
  4. अननस
  5. अनार

VII. सार्थक वाक्य बनाइए

प्रश्न 1.
हुँचना था उसे तक बजे साढ़े नौ स्कूल।
उत्तर:
उसे साढे नौ बजे तक स्कूल हुँचना।

प्रश्न 2.
जात्ते नागरिक कर्तव्य हैं अपने मूल थे।
उत्तर:
नागरिक अपने कर्तव्य मूल जाते है।

प्रश्न 3.
बडे-बड़े गिराये पत्थर पर गये मोड थे।
उतर:
मोड़ पर बड़े-बड़े पत्थर गिराए गए थे।

प्रश्न 4.
पस्वाह मगर की सड़क जरा सी भी नहीं को लोगों।
ऊत्तर:
मगर लोगों को सङक की जरा-सी भी पस्याह नही।

प्रश्न 5.
बोली भव सड़क यात्सल्य से।
उत्तर:
सडक चल्सल्य मच से बोली।

IX. पाठ में से क्वि शब्दों को कुकर लिखिए जैसे :

  1. जल्दी
  2. कभी
  3. बीच
  4. नए
  5. साथ
  6. दूर
  7. महीनों
  8. बडे।

उत्तर:

  1. जल्दी – जल्दी
  2. कभी – कभी
  3. बीच – बीच
  4. नए – नए
  5. साथ – साथ
  6. दूर – दूर
  7. महीनों – महीनों
  8. बडे – बडे ।

X. वर्ग पहेली से यातायात के साधनों के नाम चुनकर लिखिएः

  1. रेलगाड़ी
  2. बस
  3. स्क
  4. ऑटो
  5. कार
  6. जहाज
  7. राकेट
  8. स्कूटर ।

XI. सड़क ने अपने बारे में विभु को बताया। अब आप अपने बारे में लिखिए :

  1. आपका नाम क्या है ?
  2. आपकी उम्र कितनी है ?
  3. कौन-सी कक्षा में पढ़ते हैं ?
  4. स्कूल का नाम क्या है ?
  5. आपको स्कूल कितने बजे पहुँचना है ?
  6. आपके कितने मित्र हैं ?
  7. क्या वे कभी आपकी सहायता करते हैं ?
  8. अपने किसी एक मित्र का नाम लिखिए।

उत्तर:

  1. आपका नाम क्या है ? मेरा नाम रमेश है।
  2. आपकी उम्र कितनी है ? मेरा उम्र पंद्रह है।
  3. कौन-सी कक्षा में पढ़ते हैं ? में आठवि कक्षा, में पढता हूँ।
  4. स्कूल का नाम क्या है ? मेरा स्कूल का नाम विवेकानंद हायर प्रायमर स्कूल हैं।
  5. आपको स्कूल कितने बजे पहुँचना है ? मेरेको । दस बजे स्कूल पहुंचना है।
  6. आपके कितने मित्र हैं ? मेरेको पांच मित्र हैं।
  7. क्या वे कभी आपकी सहायता करते हैं? मेरे । मित्र मुझे सहायता करते हैं।
  8. अपने किसी एक मित्र का नाम लिखिए। निलकंठ।

XII. अंकों को हिंदी शब्दों में लिखिए :

KSEEB Solutions for Class 9 Hindi वल्लरी Chapter 12 सड़क की रक्षा - सबकी सुरक्षा 4

XIII. अनुरूपता :

  1. साइकिल : दो पहिया :: कॉर : _______
  2. कभी-कभी : द्विरुक्ति :: आर-पार : _______
  3. रेलगाडी : पटरी :: साइकिल : _______
  4. निर्ममता : रेफ शब्द :: प्रकार : _______

उत्तर:

  1. साइकिल : दो पहिया :: कॉर : चार पहिया
  2. कभी-कभी : द्विरुक्ति :: आर-पार : युग्म
  3. रेलगाडी : पटरी :: साइकिल : सडक
  4. निर्ममता : रेफ शब्द :: प्रकार : पाई

भाषा ज्ञान

I. सरल, मिश्र और संयुक्त वाक्यों को पहचानिए :

प्रश्न 1.
विभु नौवीं कक्षा में पढ़ रहा था।
उत्तर:
सरल वाक्य ।

प्रश्न 2.
नगरपालिका से सफाई एवं देखरेख भी चाहिए।
उत्तर :
इच्छार्थक वाक्य ।

प्रश्न 3.
सडक को कभी अपने रूप की चिंता नहीं बल्कि लोगों की सुविधा की चिंता है।
उत्तर:
संयुक्त वाक्य

प्रश्न 4.
सङक जब यह सब बोल रही थी तब रो रही थी।
उत्तर:
संकेतार्थक

प्रश्न 5.
विभु ने सड़क के बीच-बीच में कई गड्ढे भी देखे।
उत्तर:
विधानार्थक वाक्य

प्रश्न 6.
विभु दुखी हो गया।
उत्तर:
साधारण सरल वाक्य

प्रश्न 7.
विभु ने सोचा और सडक को सांत्वना दी।
उत्तर:
संयुक्त वाक्य

सड़क की रक्षा – सबकी सुरक्षा Summary in Hindi

सड़क की रक्षा – सबकी सुरक्षा पाठ का सारांश :

विभु नौवी कक्षा में पढता था। एक दिन उसकी साइकिल खराब हो गई उसे साढे नौ तक स्कूल में पहुँचना था। सडक पर वह जल्दी-जल्दी दौडता हुआ जा रहा था। सडक पर किसी ने केले का छिलका फेंका था, उसपर विभु का पाँव पडा और वह फिसलकर गिर गया। चोट लगी, कपडे गंदे हो गए। इतने में उसे किसी ने पुकारा। उसने आसपास देखा तो कोई नहीं था। वह चौक गया, फिरसे आवाज आई, वह सडक बोल रही थी। सडक कहती है, कि मुझे भी बहुत चोट लगती है। लोग सड़क पर सफाई का ध्यान नहीं रखते। कूए कचरा जालते रहते है। निर्दयता से मुझे काटते हैं और महीनो-महीनों घाव नही भरते। इतना कहकर सडक रो पड़ी। विभु ने आसपास देखा तो, सडक को डाल वितरण विभाग सार्वजनिक कार्य विभाग और नए मकानबनानेवालों ने बुरी तरह से काट कर रखा था। उसे लगा कि सडक को सरकारी विभागों की सुरक्षा चाहिए।

KSEEB Solutions for Class 9 Hindi वल्लरी Chapter 12 सड़क की रक्षा - सबकी सुरक्षा 1

विभु को सडक की व्यथा सुनकर बहुत दुख हुआ। | वह सोचता है कि सडक सबको जोड़ने का काम करती है। उसे अपनी खुद के रूप की चिंता नही बल्की लोगों के सुविधा की चिंता है। वह सडक को सांत्वना देते हुए कहता है कि, तुम मत रो माँ। मैं तुम्हारी खुशी के लिए जो भी कर सकता हूँ, वह करूंगा। ऐसा कोई उपाय बतादो जिससे तुम्हारा दुख दूर हो जाए। सडक ने कहा कि यातायात के नियमों का पालन हो और सडक की सुरक्षा का भाव लोगों के मन हो। विभु को लगा कि सडक की सुरक्षा के लिए उसपर हो रहे अन्याय को रोकना होगा। जो कोई उसपर अन्याय करेगा उसे सजा मिलनी चाहिए। लोगों को यह सोचने पर मजबूर किया जाना चाहिए कि सडक मुफ्त में सरकारी विभागों का साथ हो। अपने कर्तव्यों के प्रति जागरूकता हो। सफाई की ओर ध्यान दें। आखिर में वह तय करना है कि अपने अध्यापकों की सहायता से इस दिशा में कुछ न कुछ प्रयास अवश्य करेगा।

सड़क की रक्षा – सबकी सुरक्षा Summary in Kannada

सड़क की रक्षा - सबकी सुरक्षा Summary in Kannada 1
सड़क की रक्षा - सबकी सुरक्षा Summary in Kannada 2

सड़क की रक्षा – सबकी सुरक्षा Summary in English

A good citizen should pay attention to his duties so that no one will have to face many hardships due to his carelessness. This lesson draws the attention of students to their duties by throwing light on the safeguarding of roads, cleanliness of roads, etc.

Vibhu was studying in the ninth standard. He had to reach school by nine-thirty. His bicycle was not in good condition. Therefore he was running fast to school. Someone had thrown banana skin on the road. One must always pay attention to keeping things clean, but there are some who do not do so. Sometimes they forget their duties as citizens. Vibhu stepped on the banana skin, slipped and fell down. He was hurt and his clothes were soiled. He was depressed.

Just then he heard someone say, “Get up my child, don’t be depressed”. The boy looked around. He couldn’t see anyone nearby. Nor was there anyone at a distance. Vibhu was surprised. Just then the road spoke again, “Child, I am the road speaking. Not only you, but even I am also hurt. I suffer injuries regularly. People, horse carriages, animals, motor vehicles keep moving over me all through the day. People throw heaps of garbage on me. They also cut me mercilessly and for months together my injuries are not healed.” The road wept as it said this.

Vibhu was dumbfounded. He looked on this side and that. The road had been cut across at two or three places. There were huge boulders lying at the road turning. The water supply department and housebuilders had dug the road. One-third of the road was covered with stones as the Public Works Department had taken up some construction work. Vibhu noticed a few potholes as well in the middle of the road. He thought that the road should be protected by the government departments and that the municipality should take care of the cleanliness and maintenance of the road.

Vibhu was sad seeing the agony of the road. He felt that the road bears all the pain but still shows magnanimity in bringing people together. At some places the road is unmetalled, at some other places metalled and yet at some other places, it is of concrete. The road never thinks about its appearance but always sees the convenience of people. But people have no concern for the road.

Consoling the road, Vibhu said, “Do not weep mother. What can we do to make you happy? Give me some remedy.” The road said affectionately, “Child, I wish people cultivate the habit of protecting the road. Let them not disfigure the appearance of roads. Let them pay attention to cleanliness and let them follow the traffic rules.”

Vibhu felt that the road must be liberated from the atrocities of the people. People must be made aware of safeguarding, cleanliness and maintenance of roads. Action must be taken against those who do injustice to the road so that they remain conscious of their civic duties. Those who dig, cut or make the road dirty must be made to realize how much the road suffers because of their activities.

Vibhu decided to discuss this matter with his companions and take some steps in this direction with the guidance of his teacher. Thinking thus he started walking towards the school though he was late.

KSEEB Solutions for Class 9 Hindi

Leave a Comment

error: Content is protected !!