2nd PUC Hindi Model Question Paper 2 with Answers

Students can Download 2nd PUC Hindi Model Question Paper 2 with Answers, Karnataka 2nd PUC Hindi Model Question Papers with Answers help you to revise complete Syllabus and score more marks in your examinations.

Karnataka 2nd PUC Hindi Model Question Paper 2 with Answers

समय : 3 घंटे 15 मिनट
कुल अंक : 100

सूचना :

  • सभी प्रश्नों के उत्तर हिन्दी भाषा तथा देवनागरी लिपि में लिखना आवश्यक है।
  • प्रश्नों की क्रम संख्या लिखना अनिवार्य है।

I. अ) एक शब्द या वाक्यांश या वाक्य में उत्तर लिखिए : (6 × 1 = 6)

प्रश्न 1.
सत्कार्य में बाधा डालने से क्या बिगड़ता है?

प्रश्न 2.
बहुत-से लोग नीति और आवश्यकता के बहाने किस की रक्षा करते हैं?

प्रश्न 3.
पिता जी रसोई घर को क्या कहते थे?

KSEEB Solutions

प्रश्न 4.
1955 में भारत सरकार ने विश्वेश्वरय्या को किस उपाधि से विभूषित किया?

प्रश्न 5.
भोलाराम को पाँच साल से क्या नहीं मिला? .

प्रश्न 6.
‘स्लम डॉग मिलियनेर’ फिल्म किसकी पुस्तक के आधार पर बनी है?

आ) निम्नलिखित प्रश्नों में से किन्हीं तीन प्रश्नों के उत्तर लिखिए: (3 × 3 = 9)

प्रश्न 7.
अंग्रेजी-जहाज बीच समुद्र में डूबते समय पुरुषों ने कैसे अपना धर्म निभाया?

प्रश्न 8.
गंगा मैया का कुर्सी से क्या अभिप्राय है?

प्रश्न 9.
मैसूर राज्य के विकास में विश्वेश्वरय्या के योगदान के बारे में लिखिए।

प्रश्न 10.
बरामदे में पहुँचते ही शामनाथ क्यों ठिठक गये?

KSEEB Solutions

प्रश्न 11.
‘टफ्स’ के पुस्तकालय के बारे में लिखिए।

II. अ) निम्नलिखित वाक्य किसने किससे कहे? (4 × 1 = 4)

प्रश्न 12.
“क्रोधी तो सदा के हैं। अब किसी की सुनेंगे थोड़े ही।”

प्रश्न 13.
“लौटकर बहुत कुछ गुबार निकल जाए तब बुलाना”

प्रश्न 14.
“जो वह सो गयीं और नींद में खरटि लेने लगी, तो?”

प्रश्न 15.
“मुझे भिक्षा नहीं चाहिए, मुझे भोलाराम के बारे में कुछ पूछ-ताछ करनी है।”

आ) निम्नलिखित में से किन्हीं दो का ससंदर्भ स्पष्टीकरण कीजिए: (2 × 3 = 6)

प्रश्न 16.
“आदमी को चाहिए कि जैसा समय देखे वैसा काम करे।”

प्रश्न 17.
“एक बार जब जबान पे चढ़ जाए तो फिर कुछ अच्छा नहीं लगता।”

प्रश्न 18.
“पिता के ठीक विपरीत थीं हमारी बेपढ़ी-लिखी माँ।”

प्रश्न 19.
“पेंशन का ऑर्डर आ गया?”

III. अ) एक शब्द या वाक्यांश या वाक्य में उत्तर लिखिए : (6 × 1 = 6)

प्रश्न 20.
रैदास के अनुसार कभी भी क्या निष्फल नहीं जाता?

प्रश्न 21.
वस्तुएँ कब सुन्दर प्रतीत होती हैं?

KSEEB Solutions

प्रश्न 22.
कवयित्री को किसकी चाह नहीं है?

प्रश्न 23.
हवा को क्या हो जाने से बचाना है?

प्रश्न 24.
पितरों का तर्पण किस भूमि में होता है?

प्रश्न 25.
पीड़ित व्यक्ति को किस प्रकार चलना चाहिए?

आ) निम्नलिखित प्रश्नों में से किन्ही दो प्रश्नों के उत्तर लिखिए: (2 × 3 = 6)

प्रश्न 26.
रहीम ने मनुष्य की प्रतिष्ठा के संबंध में क्या कहा है?

प्रश्न 27.
‘गहने’ कविता के द्वारा कवि ने क्या आशय व्यक्त किया है?

प्रश्न 28.
‘मानव’ ने उत्तर प्रदेश की किन विशेषताओं का वर्णन किया है?

प्रश्न 29.
‘हो गई है पीर पर्वत-सी’ गजल से पाठकों को क्या संदेश मिलता है?

इ) ससंदर्भ भाव स्पष्ट कीजिए: (2 × 4 = 8)

प्रश्न 30.
तेरी सौं मैं नेकुँ न खायौ, सखा गये सब खाइ।
मुख तन चितै, बिहँसि हरि दीन्हौ, रिस तब गई बुझाइ।
लियौ स्याम उर लाइ ग्वालिनी, सूरदास बलि जाइ.॥
अथवा
जपमाला छापा तिलक, सरै न एकौ कामु।
मन-काँचै नाचै वृथा, साँचै राँचै रामु ॥

KSEEB Solutions

प्रश्न 31.
वे सूने से नयन, नहीं
जिनमें बनते आँसू-मोती;
वह प्राणों की सेज, नहीं
जिनमें बेसुध पीड़ा सोती;
अथवा
तेरी रक्षा का न मोल है,
पर तेरा मानव अमोल है,
यह मिटता है, वह बनता है,
यही सत्य की सही तोल है

IV. अ) एक शब्द या वाक्यांश या वाक्य में उत्तर लिखिए : (5 × 1 = 5)

प्रश्न 32.
घृणा को किससे नहीं मिटाया जा सकता?

प्रश्न 33.
पेड़ की छाया को बढ़ाने का काम कौन करती है?

प्रश्न 34.
ग्लानि से भरे हुए भारवि को जाने से क्यों नहीं रोका गया?

प्रश्न 35.
शास्त्रार्थ के नियमों में किसके हृदय को नहीं बाँधा जा सकता?

प्रश्न 36.
पिता के क्रोध में किसके प्रति मंगल कामना छिपी है?

आ) निम्नलिखित प्रश्नों में से किन्हीं दो प्रश्नों के उत्तर लिखिएः (2 × 5 = 10)

प्रश्न 37.
दादा जी के ‘बड़प्पन’ के संबंध में क्या विचार थे?
अथवा
मँझली भाभी पर टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 38.
ग्लानि और जीवन के संबंध में श्रीधर के क्या विचार हैं?
अथवा
महाकवि भारवि का चरित्र-चित्रण कीजिए।

V. अ) वाक्य शुद्ध कीजिए: (4 × 1 = 4)

प्रश्न 39.
i) मन में ऐसा शक्ति है।
ii) मेहमान लोग आठ बजे आएगा।
iii) वसंत ऋतु अच्छा लगती है।
iv) कल माताजी आ रहे हैं।
उत्तरः
i) मन में ऐसी शक्ति है।
ii) मेहमान आठ बजे आएंगे।
iii) वसंत ऋतु अच्छी लगती है।
iv) कल माताजी आ रही हैं।

KSEEB Solutions

आ) कोष्टक में दिये गए उचित शब्दों से रिक्त स्थान भरिएः (4 × 1 = 4)
(सत्य, सेवा, निर्णय, दर्द)

प्रश्न 40.
i) उसके पेट में ………….. हो रहा है।
ii) मनुष्य का परम-धर्म …………. बोलना है।
iii) ……………. करने से चरित्र बनता है।
iv) पंचों का …………….. सभी को मान्य है।
उत्तरः
i) दर्द
ii) सत्य
iii) सेवा
iv) निर्णय

इ) निम्नलिखित वाक्यों को सूचनानुसार बदलिए: (3 × 1 = 3)

प्रश्न 41.
i) सुजान के मन में तीर्थ यात्रा करने की इच्छा थी। (वर्तमानकाल में बदलिए)
ii) उसका भाषण सुनते ही बधाई देता हूँ। (भविष्यत्काल में बदलिए)
iii) प्रतिभा को भट्टी में झोंकना हैं। (भूतकाल में बदलिए)
उत्तरः
i) सुजान के मन में तीर्थ यात्रा करने की इच्छा है।
ii) उसका भाषण सुनते ही बधाई दूंगा।
iii) प्रतिभा को भट्टी में झोंक दिया था।

ई) निम्नलिखित मुहावरों को अर्थ के साथ जोड़कर लिखिए: (4 × 1 = 4)

प्रश्न 42.
i) कंचन बरसना a) भाग जाना
ii) फूले न समाना b) शुरुआत करना
iii) नौ दो ग्यारह होना c) अत्यधिक खुश होना
iv) श्री गणेश करना d) आमदनी बढ़ना
उत्तरः
i – d, ii – c, iii – a, iv – b.

उ) अन्य लिंग रूप लिखिए: (3 × 1 = 3)

प्रश्न 43.
i) आयुष्मान
ii) राजपूत
iii) अभिनेता
उत्तरः
i) आयुष्मती
ii) राजपूतानी
iii) अभिनेत्री

ऊ) अनेक शब्दों के लिए एक शब्द लिखिए : (3 × 1 = 3)

प्रश्न 44.
i) जो ईश्वर पर विश्वास रखता हो।
ii) जो जाना पहचाना हो।
iii) जो लोगों में प्रिय हो।
उत्तरः
i) आस्तिक
ii) परिचित
iii) लोकप्रिय

ए) निम्नलिखित शब्दों के साथ उपसर्ग जोड़कर नए शब्दों का निर्माण कीजिए : (2 × 1 = 2)

प्रश्न 45.
i) कीर्ति
ii) कन्या
उत्तरः
i) कीर्ति = अप + कीर्ति = अपकीर्ति
ii) कन्या = सु + कन्या = सुकन्या

ऐ) निम्नलिखित शब्दों में से प्रत्यय अलग कर लिखिएः (2 × 1 = 2)

प्रश्न 46.
i) मुस्कराहट
ii) परिचित
उत्तरः
i) मुस्कराहट = मुस्करा + आहट = मुस्कराहट
ii) परिचित = परिचय + इत = परिचित

VI. अ) किसी एक विषय पर निबंध लिखिए : (1 × 5 = 5)

प्रश्न 47.
i) देश प्रेम।
ii) मेरे जीवन का लक्ष्य।
iii) मोबाइल फोन : सुविधा या असुविधा।
अथवा
अपने शैक्षणिक प्रवास के अनुभव का वर्णन करते हुए अपनी माँ को पत्र लिखिए।

KSEEB Solutions

आ) निम्नलिखित अनुच्छेद पढ़कर उस पर आधारित प्रश्नों के उत्तर लिखिए: (5 × 1 = 5)

प्रश्न 48.
संसार का प्रत्येक धर्म दया और करुणा का पाठ पढ़ाता है। हर धर्म सिखाता है कि जीव पर दया-भाव रखो और कष्ट में फँसे इंसान की सहायता करो। परोपकार की भावना ही सबसे बड़ी मनुष्यता है। परोपकार की भावना रखने वाला न तो अपने-पराए का भेदभाव रखता है और न ही अपनी हानि की परवाह करता है। दयावान किसी को कष्ट में देखकर चुपचाप नहीं बैठ सकता। उसकी आत्मा उसे दुखी प्राणी के लिए कुछ करने को मजबूर करती है। अगर कोई किसी पर अत्याचार करे या बेकसर को यातना दे. तो हमारा कर्त्तव्य बनता है कि हम बेकसूर का सहारा बनें। न्याय व धर्म की रक्षा करना सदा से धर्म है। दया-भाव विहीन मनुष्य भी पशु समान ही होता है। जो दूसरों की रक्षा करते हैं, वे इस सृष्टि को चलाने में भगवान की सहायता करते हैं। धर्म का मर्म ही दया है। दया-भाव से ही धर्म का दीपक सदा प्रज्वलित रहता है।
प्रश्न:
i) संसार का हर धर्म किसका पाठ पढ़ाता है?
ii) सबसे बड़ी मनुष्यता क्या है?
iii) दयावान व्यक्ति कब चुपचाप नहीं बैठ सकता?
iv) न्याय व धर्म की रक्षा करना क्या है?
v) सृष्टि को चलाने में भगवान की सहायता कौन करते हैं?

इ) हिन्दी में अनुवाद कीजिए: (5 × 1 = 5)

प्रश्न 49.
2nd PUC Hindi Model Question Paper 2 with Answers 1

Leave a Comment

error: Content is protected !!