Karnataka Solutions for Class 9 Hindi वल्लरी Chapter 8 भीम और राक्षस

You can Download भीम और राक्षस Questions and Answers Pdf, Notes, Summary Class 9 Hindi Karnataka State Board Solutions to help you to revise complete Syllabus and score more marks in your examinations.

भीम और राक्षस Questions and Answers, Notes, Summary

अभ्यास

I. एक वाक्य में उत्तर लिखिए :

प्रश्न 1.
बकासुर कहाँ रहता था ?
उत्तर:
बकासुर एक चक्र नगरी में रहता था।

प्रश्न 2.
भीम कौन था ?
उत्तर:
भीम कुंती का बेटा था।

प्रश्न 3.
राक्षस का नाम क्या था ?
उत्तर:
राक्षस का नाम बकासुर था।

प्रश्न 4.
भीम ने बकासुर की लाश को कहाँ रखने के लिए कहा ?
उत्तर:
भीम ने बकासुर की लाश को उठाकर नगरी के दरवाजे पर रखने के लिए कही।

प्रश्न 5.
कुंती के कितने बेटे थे ?
उत्तर:
कुंती के पाँच बेटे थे।

प्रश्न 6.
भीम और राक्षस एकांकी के लेखक कौन हैं ?
उत्तर:
भीम और राक्षस एकांकी के लेखक श्री विष्णु प्रभाकर हैं।

II. दो या तीन वाक्यों में उत्तर लिखिए :

प्रश्न 1.
ब्राह्मण के घर में सब लोग क्यों रो रहे थे ?
उत्तर:
राक्षस ने लोगों से एक गाडी अन्न भैसे और एक आदमी को रोज लेता था। लोगों ने मिलकर बारी बाँध ली थी। अब ब्राह्मण की बारी थी उनके घर में पत्नी, बेटी और एक बच्चा था। राक्षस पास कौन जायेगा ? यह सोचकर सब लोग दुःख से रहे थे।

प्रश्न 2.
बकासुर क्या काम करता था और उसके बदले में वह क्या लेता था ?
उत्तर:
बकासुर एकचक्र नगरी के राजा को दबाकर असली राजा बना था। बकासुर उस नगरी के लोगों की रखवाली करता था और उसके बदले में वह उनसे एक गाडी अन्न, दो भैंसे और एक मनुष्य को लेता था।

III. रिक्त स्थान भरिए

  1. तुम चले गये तो घर का ______ ही चला जाएगा
  2. तुम ______ बुझा रहे हो।
  3. ______ को अपने दुख से दुखी नहीं करना चाहिए।
  4. मैं अभी तुझे ______ पिलाता हूँ।
  5. अभी तेरे दो ______ किये देता हूँ।

उत्तर:

  1. तुम चले गये तो घर का सहारा ही चला जाएगा
  2. तुम पहेलियाँ बुझा रहे हो।
  3. अतिथि को अपने दुख से दुखी नहीं करना चाहिए।
  4. मैं अभी तुझे पानी पिलाता हूँ।
  5. अभी तेरे दो टुकड़े किये देता हूँ।

IV. विलोम शब्द लिखिए :

  1. रोना
  2. अपराध
  3. भक्षक
  4. पास
  5. शुद्ध
  6. वीर

उत्तर:

  1. रोना X हँसना
  2. अपराध X निरपराध
  3. भक्षक X रक्षक
  4. पास X  दूर
  5. शुद्ध X अशुद्ध
  6. वीर X कायर

V. जोडकर लिखिए :

1. बक लडना
2. भीम का घर
3. युद्ध कुंती
4. ब्राह्मण राक्षस

उत्तर:

1. बक राक्षस
2. भीम कुंती
3. युद्ध लडना
4. ब्राह्मण का घर

VI. अन्य लिंग शब्द लिखिए ।

  1. ब्राह्मण
  2. बेटा
  3. अकेला
  4. पुतला

उत्तर:

  1. ब्राह्मण – ब्राह्मणी
  2. बेटा – बेटी
  3. अकेला – अकेली
  4. पुतला – पुतली

VII. भीम पाँच पांडवों में से एक है। बाकी चार पांडवों के नाम लिखिए ।

  1. युधिष्ठिर/धर्मराज
  2. अर्जुन
  3. नकुल
  4. सहदेव

VIII. इन वाक्यांशों के लिए एक शब्द लिखिएः

उदाः1. जो बलहीन हो – दुर्बल

  1. जिसके आने की कोई तिथि न हो _______
  2. जो रक्षा करता हो – _______
  3. जिसके मन में दया न हो – _______
  4. जो शोक न करता हो – _______
  5. जो भारत में रहता हो – _______
  6. गोद लिया हुआ – _______

उत्तर:

  1. जिसके आने की कोई तिथि न हो – अतिथि
  2. जो रक्षा करता हो – रक्षक
  3. जिसके मन में दया न हो – निर्दयी
  4. जो शोक न करता हो – अशोक
  5. जो भारत में रहता हो – भारतवासी
  6. गोद लिया हुआ – दत्तक

IX. कन्नड में अनुवाद कीजिए ।

प्रश्न 1.
उसका पूरा नाम बकासुर है। |
उत्तरः
ಆತನ ಪೂರ್ಣ ಹೆಸರು ಬಕಾಸುರ ಇದೆ.

प्रश्न 2.
इस नगरी का राजा बड़ा दुर्बल है।
उत्तरः
ಈ ನಗರದ ರಾಜನು ಬಹಳ ದುರ್ಬಲನು ಆಗಿದ್ದಾನೆ.

प्रश्न 3.
भगवान तुम्हारे बेटे की रक्षा करेगा।
उत्तरः
ಭಗವಂತನು ನಿನ್ನ ಮಗನ ರಕ್ಷಣೆ ಮಾಡುವನು.

प्रश्न 4.
बडा अजीब आदमी है।
उत्तरः
ಬಹಳ ವಿಚಿತ್ರ ಮನುಷ್ಯನಿದ್ದಾನೆ.

X. अनुरूपता :

  1. सहदेव : माद्रि का बेटा : भीम : ________
  2. भीम : मानव :: बकासुर : ________
  3. अर्धनारीश्वर : उपन्यास :: आवारा मसीहा : ________
  4. भाग्य फूटना:बुरा होना::पाठ पढाना:सबक : ________

उत्तरः

  1. सहदेव : माद्रि का बेटा : भीम : कुंती का पुत्र
  2. भीम : मानव :: बकासुर : राक्षस
  3. अर्धनारीश्वर : उपन्यास :: आवारा मसीहा : जीवनी
  4. भाग्य फूटना:बुरा होना::पाठ पढाना:सबक सिखाना

भाषा ज्ञान

I. निम्नलिफ्यों में से संबंधबोधक शब्द छाँटकर लिखिए :

  1. मुझे अंगूर की अपेक्षा खजूर पसंद है।
  2. पडोसी के घर के बाहर भीड़ लगी है।
  3. नदी के पास साधु की कुटिया थी।
  4. गायों के संग कृष्ण वन में जाते थे।
  5. अन्याय के विरुद्ध जनता ने आंदोलन किया।

उत्तरः

  1. मुझे अंगूर की अपेक्षा खजूर पसंद है। तुलनावाचक
  2. पडोसी के घर के बाहर भीड़ लगी है। स्थानवाचक
  3. नदी के पास साधु की कुटिया थी। दिशावाचक
  4. गायों के संग कृष्ण वन में जाते थे। संगवाचक
  5. अन्याय के विरुद्ध जनता ने आंदोलन किया। विरोधवाचक

II. रिक्त स्थानों में उचित संबंधबोधक भरिएः

उदाः रस्सी के ऊपर कपडे सूख रहे हैं।

  1. पैसों _____ भिखारी -तरस रहा था।
  2. कुएँ _____ मेंढक उछल रहा है।
  3. मुकेश _____ कोई चला आ रहा है
  4. चोर, पुलिस _____ पकडा गया।
  5. पेड _____ फल पडा है।

उत्तरः

  1. पैसों लिए भिखारी -तरस रहा था।
  2. कुएँ के अंदर मेंढक उछल रहा है।
  3. मुकेश की ओर कोई चला आ रहा है
  4. चोर, पुलिस के द्वारा पकडा गया।
  5. पेड से अलग फल पडा है।

III. निम्मलिखित संबंधबोधक शब्दों का प्रयोग वाक्यों में कीजिए : –

  1. की तरह
  2. से दूर
  3. के कारण
  4. के समान
  5. के साथ

उत्तरः

  1. की तरह – मोहन, सोहन की तरह बुद्धिमान नहीं है।
  2.  से दूर – वह घर से दूर कही चला गया।
  3. के कारण – बबलू बीमारी के कारण पाठशाला नहीं जा सका।
  4. के समान – उसका चेहरा चंद्र के समान चमक रहा था।
  5. के साथ –

IV. इन वाक्यों को पढ़कर संबंधबोधक शब्दों को रेखांकित का भेदों के नाम लिखिएः

  1. राधा अपने पिता के संग चल रही थी। – के संग – संगवाचक
  2.  चिडिया पेड के ऊपर बैठी है। – के ऊपर – स्थानवाचक
  3. अन्याय के विरुद्ध हमें लडना है। – के विरुद्ध विरोधवाचक
  4. मुझे माँ के खातिर खाना पडेगा। – के खातिर – हेतुवाचक
  5. शिक्षा के माध्यम से हमें ज्ञान बाँटना है। – के माध्यम – साधनवाचक

भीम और राक्षस Summary in Hindi

भीम और राक्षस पाठ का सारांश :

पहला दृश्य

गरीब ब्राह्मण का घर है। ब्राह्मण की पत्नी और उनकी एक बेटी और एक बच्चा था। एक चक्र नगरी में रहते थे। वहाँ बकासुर नाम का एक राक्षस भी रहता था। उस नगरी का राजा बहुत दुर्बल था। वह सिर्फ नदी पर बैठना चाहता था। उस राजा को तबाकर बकासुर असली राजा बनकर बैठा था। बकासुर उस नगर के लोगों की रक्षा करता था और उसके बदले में उनसे रोज एक गाडी अन्न, दो भैंसे और एक मनुष्य को खाने के लिए लेता था। उस नगर के सब लोगों ने मिलकर बारी बाँध ली थी। जब जिसकी बारी आती है, तब वही यह सब समान भेजता था।

KSEEB Solutions for Class 9 Hindi वल्लरी Chapter 8 भीम और राक्षस 1

लोग अपनी अपनी बारी भुगतते थे। नहीं तो वह राक्षस हजारों मनुष्यों को एक साथ खा जाता था। पिछले चालीस सालों से यह होता आ रहा था। उस नगर में आदमी भी बिकते थे। जिसके पास धन हो तो वह आदमी को खरीदकर भेज देता था। वहाँ के आदमियों में आपस में प्यार और एकता नहीं थी। इसीलिए वे राक्षस के अधीन हो गये थे। आज उस ब्राह्मण की बारी थी। तो वे चिंता करने लगे थे। उन्हें एक बेटी और एक बच्चा था। उस ब्राह्मण की पत्नी अपनी गोद में बच्चे को लिए बैठी रो रही थी। उसका पति भी रो रहा था। ब्राह्मणी पति से कह रही थी कि – वह राक्षस के पास जायेगी पर पति कहता है कि वह स्वयं राक्षस के पास जायेगा। उनकी बेटी कहती है किं – न माँ जायेगी, न बाप जायेगा, पर वह स्वयं काने के लिए तैयार होती है।

KSEEB Solutions for Class 9 Hindi वल्लरी Chapter 8 भीम और राक्षस 2

कुंती और भीम दोनों उस ब्राह्मण के अतिथिः थे। ब्राह्मण परिवार का रोना सुनकर कुती और भीम उसका कारण पूछते हैं तो ब्राह्मण और उसकी पत्नी बोलते है कि अब उनकी बारी आयी है जो राक्षस के लिए बलि होना था। तब कुंती उन्हें मत रोने के लिए कहती है और भीम भी उन्हें धीरज बँधा है। ब्राह्मण परिवार में से वह किसी को जाने नहीं देती। कुंती के पाँच बेटे थे। उनमें से भीम को राक्षस के पास भेजने के लिए कुंती तैयार हो जाती है। ब्राह्मण और उसकी पत्नी इसे विरोध करने पर भी कुंती उन्हें शांति से रहने के लिए कहती है और स्वयं भीम भी जाने के लिए तैयार होता है।

KSEEB Solutions for Class 9 Hindi वल्लरी Chapter 8 भीम और राक्षस 3

जंगल में बकासुर का मकान था। वहाँ भीम मस्ती में इधर-उधर घूम वा रहा है। भीम शोर । मचा रहा था। तो बकासुर मकान से बाहर झाँकता है। | भीम को बकासुर भैंस जैसा लगता है। बकासुर भीम को घूम देता है। कुश्ती लड़ने के लिए भीम बकासुर को चुनौती देता है। भीम बकासुर के गले को पकता है। बकासुर चीखता है भीम
अट्टहास करता है। बकासुर की आँखें फट जाती हैं। बकासुर को भीम ने धरती पर पटकता है। भयंकर चीख के साथः राक्षस मर जाता है। चोर से शोर उठता है। राक्षस लोग दौडकर आते है और भीम को देखकर काँपते हैं।भीम बकासुर के सिपाहियों को खबरदार कहता है। बकासुर की लाश को लेकर भागने के लिए कहता है। और आदमियों को मत खाने के लिए कहता है। वे लाश उठाकर ले जाते हैं। यहाँ पर सत्य की जीत और असत्य की हार प्रकटित होती है।

भीम और राक्षस Summary in Kannada

भीम और राक्षस Summary in Kannada 1
भीम और राक्षस Summary in Kannada 2
भीम और राक्षस Summary in Kannada 3

भीम और राक्षस Summary in English

The story is set during the period when the Pandavas were in exile along with their mother Kunti. They were passing through a beautiful place called Ekachakra. There a brahmin provided them shelter at his home. He had a wife and two children – a girl and a boy.

One day Bheema was at home with his mother. The others had gone out. Suddenly they heard the sound of weeping from inside the house. They listened and found that the brahmin, who had given them shelter, was talking to his wife, and they were both weeping. Their curiosity was aroused. They listened intently but could not make out anything. They only knew that the brahmin and his wife were in trouble. Kunti decided to ask the brahmin what the problem was.

Kunti could hear them arguing amongst themselves as to who will sacrifice their life for the sake of others. The Brahmin was saying that he must be the one who should take the food cart and sacrifice himself. But his wife said it was her ultimate duty towards her husband and her kids. The daughter of the brahmin, on the other hand, wanted to sacrifice herself for the sake of her parents and her younger brother.

Kunti, who was listening to all this was unable to understand what it was all about. She walked in and asked the Brahmin what was wrong and what this sacrifice they were talking about was. At first, the brahmin refused to tell her anything saying that they were their guests and it was wrong to make the guests sad by narrating their problems to them. But Kunti insisted on knowing the problem and it was then that the Brahmin told Kunti about Bakasura.

Bakasura was a demon who terrorised people by killing and eating them. The local king struck a deal with the demon, according to which he was sent huge provisions of food, two buffaloes, and a human being, all of which he devoured. In return, the demon would protect the king and his people. The families took turns in sending the provisions, the buffaloes, and someone from their family. If he wasn’t sent his monthly provisions Bakasura would come and wreak havoc.

The Brahmin was in a fix, as it was now the turn of his family. Kunti told them not to worry, as she would send her son Bhima to take the provisions to the demon. The brahmin refused instantly, as he could not do this to his guests. But Kunti convinced them that Bhima was extremely strong and would be an equal match for the demon Bakasura. Kunti told Bhima about the demon and without even blinking he agreed to face Bakasura.

Bhima took the cartload of food and went up the hill to meet Bakasura. Bhima reached the hilltop but couldn’t resist all the food. He started devouring the food meant for Bakasura and started laughing out loudly. Bakasura peeped out of his house. He was outraged and came out. But Bheema continued eating the food. Bakasura started threatening him.

But Bheema was unconcerned. Once he had finished eating, Bheema started hitting. Baka. A terrible fight took place. Finally, Bheema took Baka in his arms, put him across his knees, and broke him in two. With a terrible cry of pain, Baka fell on the ground, dead.

Hearing Baka’s shriek his companions approached Bheema. Bheema said, “If you promise not to harass the people of this city anymore, I will allow you to go your ways. Or else you will suffer the same fate as your friend”. He asked them to take the body of Bakasura and leave it at the gateway of the city so that the people could see it. The companions took the body with them and Bheema followed them.

KSEEB Solutions for Class 9 Hindi

Leave a Comment