Karnataka Class 10 Hindi Solutions वल्लरी Chapter 12 रोबोट

You can Download रोबोट Questions and Answers Pdf, Notes, Summary Class 10 Hindi Karnataka State Board Solutions to help you to revise complete Syllabus and score more marks in your examinations.

रोबोट Questions and Answers, Notes, Summary

अभ्यास

I. एक वाक्य में उत्तर लिखिए :

प्रश्न 1.
वर्षों से सक्सेना के परिवार में कौन काम कर रहा था?
उत्तर:
वर्षों से सक्सेना के परिवार में साधोराम सेवक काम कर रहा था।

प्रश्न 2.
धीरज सक्सेना किस कार्यालय में जा पहुँचे ?
उत्तर:
धीरज सक्सेना रोबोटोनिक्स कॉरपोरेशन के कार्यालय में जा पहुँचे।

प्रश्न 3.
एक रोबोट वैक्यूम क्लीनर से क्या साफ कर रहा था?
उत्तर:
एक रोबोट वैक्यूम क्लीनर से दफ्तर के फर्श को साफ कर रहा था।

प्रश्न 4.
रोबोनिल की मुलाकात किससे हुई ?
उत्तर:
रोबोनिल की मुलाकात रोबोदीप से हुई।

प्रश्न 5.
शर्मा परिवार के कुत्ते का ना लिखिए।
उत्तर:
शर्मा परिवार के कुत्ते का नाम शेरू

प्रश्न 6.
रोबोनिल और रोबोदीप किससे मिलने गए ?
उत्तर:
रोबोनिल और रोबोदीप कंपनी के मालिक रोबोजीत से मिलने गए।

प्रश्न 7.
वैज्ञानिक लेखक का नाम लिखिए।
उत्तर:
वैज्ञानिक लेखक का नाम आइजक आसिमोव था।

II. दो-तीन वाक्यों में उत्तर लिखिए:

प्रश्न 1.
साधोराम को क्या हुआ था?
उत्तर:
साधोराम सक्सेना परिवार में वर्षों से काम कर रहा था। एक दिन अचानक चलती बस से गिरकर उसे खतरनाक चोट आई। उसे अस्पताल में भर्ती कराना पडा।

प्रश्न 2.
धीरज सक्सेना को बुद्धिमान रोबोट की जरूरत क्यों थी ?
उत्तर:
साधोराम के अस्पताल जाने से धीरज सक्सेना के परिवार की तकलीफें अधिक बढ़ गई। सक्सेनाजी से परिवारवालों का यह दुःख देखा नहीं गया। उन्हें उनके नाती-पोतों का होमवर्क कराने एवं वर्ड प्रोसेसर पर काम सँभालने के लिए बुद्धिमान रोबोट की जरूरत थी।

प्रश्न 3.
रोबोनिल ने रोबोनिल से क्या कहा ?
उत्तर:
रोबोदीप ने रोबोनिल से कहा कि उनके नियम कुछ भी हो पर हम किसी इन्सान के नुकसान का कारण बने यह सही नहीं है और किसी इन्सान की नौकरी को खतरा पहुंचे यह गलत है।

प्रश्न 4.
रोबोनिल ने रोबोजीत को क्या समझाने की कोशिश की ?
उत्तर:
रोबोनिल ने रोबोजीत को यह समझाया कि उनके कारण अगर किसी को नुकसान पहुँचता है तो वह सही नहीं है। यंत्रमानव और मानव नजरिये से यह गलत है कि किसी भी इन्सान की नौकरी को खतरा पहुँचे। पर यह बात रोबोजित के समझ से बाहर थी।

प्रश्न 5.
कहानी को टाइप करते समय रोबोनिल को क्या हुआ ?
उत्तर:
धीरज सक्सेना ने रोबोनिल को एक विज्ञान कथा वर्ड प्रोसेसर पर टाइप करने के लिए दी। कहानी टाइप करके रोबोनिल की धात्विक और तारों भरे परिपंथवाली खोपड़ी में यकायक मानों नीली रोशनी हो गई। रोबोदीप के साथ रोबोटिक संघ से संपर्क साधने के बारे में सोचने लगा।

III. पाँच-छः वाक्यों में उत्तर लिखिए:

प्रश्न 1.
धीरज सक्सेना ने घरेलू कामकाज के लिए रोबोट रखने का निर्णय क्यों किया ?
उत्तर:
वर्षों से सक्सेना परिवार में साधोराम काम कर रहा था। अचानक एक दिन चलती बस से गिरकर उसे खतरनाक चोट आ गई। वह अस्पताल में भर्ती हो गया। सक्सेना परविार को साधोराम के अस्पताल भर्ती होने से बहुत तकलीफें सहन करनी पड़ी। परिवार बडा था। घरेलु कामकाज के लिए रोबोट रखने का निर्णय लिया।

प्रश्न 2.
रोबोनिल और रोबोदीप की मुलाकात का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
रोबोनिल घरेलू कुत्ते शेरू को घुमाने ले जाता था। उसकी मुलाकात एक दिन रोबोदीप से हुई जो शर्मा परिवार के कुत्ते झबरू को घुमाने लाता है। दोनों के बीच दोस्ती हो गयी। एक दिन रोबोदीप ने रोबोनिल को साधोराम का किस्सा सुनाया। और बताया कि अब सक्सेना परिवार उसे काम पर नहीं रखेगा। वे उसकी छुट्टी करनेवाले हैं। रोबोनिल ने कहा कि यह रोबोटिकी के नियम के विरुद्ध है। दोनों साधोराम के लिए कुछ करने का सोचते है।

प्रश्न 3.
विज्ञान कथा का सार लिखिए।
उत्तर:
विज्ञान कथा रोबोट यंत्रमानव की कहानी है। इसमें रोबोनिल और रोबोदीप यंत्रमानव हैं, जो काम पर लग जाते है। अपने अपने परिवार में इन दोनों ने कार्यभाग अच्छी, तरह से सँभला था। एक दिन इन दोनों के बीच मुलाकात होने पर पता चलता है कि उनकी वजह से साधोराम सेवक की नौकरी चली जाएगी। अपनी वजह से किसी की नौकरी चली जाएगी इस बात का उनको बडा दुःख होता है। दोनों अपने संघर्ष दवारा साधोराम की नौकरी वापस दिलाते है। यंत्रमानव को खुशी होती है कि उनसे इंमानों को कोई नुकसान नहीं सेलना पडा।

प्रश्न 4.
रोबोटिक कंपनियों के मालिकों के बीच हलचल क्यों मच गई ?
उत्तर:
सक्सेना परिवार का नौकर साधोराम अचानक एक दिन चलती बस से गिरकर उसे खतरनाक चोट आती है। उसके अस्पताल पहुंच जाने से घर के सभी की तकलीफें बढ़ जाती है। धीरज सक्सेना से परिवारवालों का यह दुख नहीं देखा जाता है। घरेलू कामकाज के लिए साधोराम को निकालकर रोबोट को रख दिया जाता है। रोबोट को जब यह पता चलता है तो वह रोबोटिक संघ से मिलकर रोबोटो की हड़ताल की घोषणा करवा देता है। इस आहवान से रोबोटिक कंपनियों के मालिकों के बीच हलचल मच जाती है।

प्रश्न 5.
सक्सेना परिवार रोबोनिल को पाकर बहुत खुश था। क्यों? विवरण दीजिए।
उत्तर:
रोबोनिल सक्सेना परिवार के सभी लोगों का काम करता था। वह सुबह नाश्ता कराने, मेहमानों के लिए द्वार खोलने, घर के छोटे बच्चों को कहानियाँ सुनाने, उनके होमवर्क कराने, सक्सेना जी के वर्ड प्रोसेसर पर काम करने के अलावा शाम को परिवार के कुत्ते को घुमाने भी ले जाने का काम करता था। इसलिए सक्सेना परिवार रोबोनिल को पाकर बहुत खुश था।

IV. निम्नलिखित कारकों को चुनकर लिखिएः (का, के, में, से, की)

  1. वर्ष 2030 ……… नवंबर का महीना था।
  2. आप साधारण रोबोट ………. भी काम चला सकते है।
  3. रोबोनिल ……… घर में आ जाने से सभी ने राहत की साँस ली।
  4. रोबोटों ………. हडताल की घोषणा हुई।
  5. संघ को यह बात मानने …….. कोई आपत्ति नहीं थी।

उत्तर:

  1. के
  2. से
  3. के
  4. से
  5. में

V. जोडकर लिखिए:

1. यह सुनकर काउंठ पर  गुप्त मंत्रणा हूं।
2. मगर, रोबेदीप, यह तो पाकर फूला नहीं समा रहा था।
3. शाम को रोबोनिल बैठ रघट बोला।
4. दोनों के बीच कुछ रोबोटिकी के नियम के रुिद्ध है।
5. सक्सेना परिवार
रोबोनिल के
और रोबोदीप मिले।

उत्तर – जोडकर लिखना

1. यह सुनकर काउंठ पर  बैठ रघट बोला।
2. मगर, रोबेदीप, यह तो रोबोटिकी के नियम के रुिद्ध है।
3. शाम को रोबोनिल और रोबोदीप मिले।
4. दोनों के बीच कुछ  गुप्त मंत्रणा हूं।
5. सक्सेना परिवार रोबोनिल के  पाकर फूला नहीं समा रहा था।

VI. अन्य वचन रूप लिखिए:

  1. बेटा – बेटे
  2. नाती – नाती
  3. कुत्ता – कुत्ते
  4. दुट्टी – छुट्टियाँ
  5. बेटियाँ – बेटी
  6. पोता – पोते
  7. कंपनियाँ – कंपनी
  8. नौकरियाँ – नौकर

VII. अनुरूपता :

1. शेरू के टहलाना : रेम्बोनिल :: झबरू को घुमाना : ——–
2. मुखिया : धीरज सक्सेना :: सेवक : ——
3. टस से मस न होना : अटल रहना. :: फूले न समाना : ———
उत्तर:

  1. रोबोदीप
  2. साधोराम
  3. बहुत खुशहोना

भाषा ज्ञान :

मुहावरे :
जो वाक्यांश अपने सामान्य अर्थ को छोडकर किसी विशेष अर्थ को प्रकट करता है, वह मुहावरा कहलाता है।
उदाहरण :
आँखें चुराना – अपने आप को छिपाना
आँखें दिखाना – धमकाना, डराना
अक्ल का अंधा – मूर्ख
आस्तीन का साँप – कपटी मित्र
कान भरना – चुगली करना

I. उदाहरण के अनुसार मुहावरे लिखिए :

प्रश्न 1.
शरीर के अंगों से संबंधित – उदा : अँगूठा दिखाना – साफ इनकार करना
उत्तर:
पेट में चूहे दौडना – बहुत भूख लगना
अँगूठा दिखाना – साफ इनकार करना
आँख लगना – नींद आना

प्रश्न 2.
अंको से संबंधित – उदा : नौ दो ग्यारह होना – इधर-उधर भाग जाना ।
उत्तर:

  1. सवासोलह आने – पूरी तरह
  2. चार चाँद लगना – प्रतिष्ठा बढना
  3. छक्के छुडानां – बुरी तरह हराना

II. मुहावरों का अर्थ लिखकर वाक्यों में प्रयोग कीजिए

  1. आँख खुलना – सच्चाई का पता चलना।
  2. ईद का चाँद होना – बहुत दिनों के बाद दिखाई देना।
  3. कान खडे होना – सचेत होना।
  4. वा से बातें करना – तेज भागना।
  5. बात का धनी – बात का पक्का।

III. मुहावरों को सही अर्थ के साथ जोडकर लिखिए :

1. राहत की साँस लेना विचलित न होना।
2. पेट पर लात मारना चैन की साँस लेना/तसल्ली कना
3. टस से मस न होना आश्चर्यचकित होना
4. फूला नहीं समाना नौकरी या सहूलियत छैनना
5. आँच आना वक्त आने पर इनकार करना।
6. अँगूठ दिखा देना हानि पहुँचना
7. हलचल मचाना बहुत सुख होना
8. हाथों के तोते उङमा  शोर मचाना

उत्तर – जोडकर लिखना

1. राहत की साँस लेना चैन की साँस लेना/तसल्ली कना
2. पेट पर लात मारना नौकरी या सहूलियत छैनना
3. टस से मस न होना विचलित न होना।
4. फूला नहीं समाना बहुत सुख होना
5. आँच आना हानि पहुँचना
6. अँगूठ दिखा देना वक्त आने पर इनकार करना।
7. हलचल मचाना शोर मचाना
8. हाथों के तोते उङमा आश्चर्यचकित होना

IV. निम्नलिखित मुहावरों से वाक्य पूरा कीजिए:
(साँस रोके हुए, नौ दो ग्यारह हो जाना, गुस्सा हवा हो जाना, चिंगारियाँ सुलगना, दाँतों तले उँगली दबाना, भूचाल आ जाना)

  1. मास्टर साहब की आँखों में चिंगारियाँ रही थी।
  2. मालिक को देखकर ङ-इवर का गुस्सा हवा हो गया।
  3. अपने सामने शेर को देख मैं काफी देर तक साँस रोके खडा रहा।
  4. अध्यापिका की अनुपस्थिति में बच्चों ने कक्षा में इतना शोर मचा रखा था, ऐसा लग रहा था, मानो | कक्षा में भूचाल हो।
  5. एक व्यक्ति को अपने मुँह से ट-क खींचते देख हम दाँतों तले ऊँगली दबाकर रह गए।
  6. बिल्ली को सामने से आता देख चूहा नौ दो ग्यारह हो गया।

रोबोट Summary in Hindi

रोबोट पाठ का सारांशः
जब वर्षों से सक्सेना परिवार में काम कर रहा साधोराम एक दिन बस से गिरकर चोटिल हो गया तो सक्सेना परिवार पर मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ा। सभी की तकलीफें बढ़ गई। धीरज सक्सेना से यह दुःख देखा नहीं गया और वे ‘रोबोटोनिक्स कॉरपोरेशन’ के कार्यालय जा पहुंचे।

यह 2030 के नवंबर की बात है। वैज्ञानिक रोबोट में कृत्रिम बुद्धि के साथ-साथ मानवीय संवेदना के गुण भी पैदा करने में सफल हो चुके थे। काउंटर पर बैठे एक रोबोट ने धीरज सक्सेना का स्वागत किया और उनसे आने का कारण पूछा। सक्सेना बोले – मुझें घरेलू कामकाज के लिए एक बुद्धिमान रोबोट चाहिए जो मेरे नाती-पोतों का होमवर्क करा सकें और मेरा कम्प्यूटर का काम भी कर सकें।

रोबोट Summary in Hindi 1

उस दिन कंपनी का एक कर्मचारी सक्सेना परिवार में काम करने के लिए रोबोनिल को छोड़ गया। रोबोनिल के आने से सभी ने राहत की सांस ली। सुबह नाश्ता कराने, द्वार खोलने, बच्चों को कहानियाँ सुनाने, होमवर्क में मदद और सक्सेना के वर्ड प्रोसेसर पर काम करने एवं शाम को पालतू कुत्ते शेरू को घुमाने का काम वह करने लगा।

रोबोनिल की मुलाकात एक दिन शेरू को घुमाते समय रोबोदीप से हुयी। दोनों पक्के दोस्त बन गए। एक दिन रोबोदीप ने रोबोनिल को साधोराम की बात बताई। उसने बताया साधोराम सक्सेना परिवार का पुराना नौकर था। अब वह एक दुर्घटना के कारण अस्पताल में है। अब सक्सेना जी उसकी छुट्टी करने वाले हैं क्योंकि तुम उन्हें भा गए हो। वे साधोराम को मुआवजा देकर गाँव भिजवा देंगे।

रोबोट Summary in Hindi 2

रोबोनिल इसे रोबोटिकी के नियम के खिलाफ बताता है। यह वैज्ञानिक एवं विज्ञान लेखक आइजक आसिमोव के रोबोटिकी नियम के खिलाफ है कि कोई रोबोट किसी इंसान के नुकसान का कारण बने, इंसान की नौकरी को खतरा पहुंचे।

दोनों दोस्त तय करते है कि वे साधोराम के लिए कुछ करेंगे। लेकिन कंपनी के मालिक अनुबंध की शर्तों को तोड़ने से मना कर देते हैं और मदद करने से मना कर देते है। रोबोनिल बहुत निराश होता है। एक दिन धीरज सक्सेना ने एक विज्ञान कथा टाइप करने को दी। इस कथा में एक इंसान की नौकरी के लिए ‘रोबोटिक संघ’ द्वारा हड़ताल का वर्णन था।

रोबोट Summary in Hindi 3

दूसरे ही दिन रोबोनिल ने रोबोटिक संघ से मिलकर साधोराम के समर्थन में हड़ताल करवा दी। रोबोजीत को संघ की शर्ते माननी पड़ी और उसने सक्सेना परिवार से हुए अनुबंध को रद्द कर दिया। मजबूर होकर धीरज सक्सेना ने संघ के अध्यक्ष से गुजारिश की कि जब तक साधोराम पूरी तरह से ठीक नहीं हो जाता है, तब तक रोबोनिल उसके पास काम करता रहे। साधोराम के ठीक होते ही वह उसे दोबारा काम पर रख लेगा। संघ ने यह बात मान ली। इस प्रकार रोबोनिल और रोबोदीप के संघर्ष से साधोराम की नौकरी बच जाती है।

रोबोट Summary in English

ROBOT Summary in English:

Dr. Pradeep Mukhopadhay ‘Alok’ The writer has given a message that machine cannot replace humans and humans
will not lose their proting given a mess will not lose their ‘work.

Sadhoram was working with the Saksena family for many years. One day he met with an accident falling from a moving bus. He was hospitalized. Saksena’s family was big. With the hospitalization of Sadhorm all the members of the family faced difficulty. Dhiraj Saksena wanted to mitigate the difficulty of the family members and hence contacted the ‘Robotonics Corporation’ for help.

In the year 2030, Various robots were engaged in cleaning activities in Robotonics corporation: The Robots were given artificial intelligence and some of them had human qualities also.

A Robot is the corner offered Saksena help and enquired about his requirement. Saksena wanted an intelligent Robot for household work his own personal work etc. Saksena hired an intelligent Robot for work.

Robonil, an intelligent Robot started working in Saksena household and all the members of the family were very happy as Robonil did all the household work and also assisted Saksena.

Robotnik ‘used to take the dog for a walk in the evenings and met another Robot named Robodeep, who was working in the neighbourhood.

One day Robodeep informed Robonil the shay of Sadhoram, who was hospitalised Robodeep also informed Robonil that Saksena’s family was planning to remove Sadhoram from his employment. Robotnik felt guilty and very bad as it was against the principles of Robotics that any human he coming Jobless became of Robots, they discussed among themselves and come to a conclusion.

Next day both the Robots Robonil and Robodeep went to Robotonics corporation and narrated the entire happenings to Robojeeth, the owner of ti withdraw the services of Robots so that Sadhoram’s Job could be saved. But Robojeeth did not agree as he would lose business and lose profit. Both the Robots when disappointed and returned to their employers.

Robonil was very sad and worried about sadhoram’s losing Saksena gave a scientific strong and asked Robonil to type in the computer the story mentioned that a person was seriously ill and hence replaced by a Robot. Even after recovery, he was not taken back and the services of a Robot continued. The Robot contracted the Robot Association and arranged to give a call for strike. Due to the threat of strike the worker was reemployed. After reading the story Robonil was excited. Now he knew what to do to help Sadhoram.

Next day Robonil and Robodeep approached their Association, briefed them, and requested for help. The Robotic Association gave a call for strike accordingly.

रोबोट Summary in Kannada

रोबोट Summary in Kannada 1
रोबोट Summary in Kannada 2
रोबोट Summary in Kannada 3
रोबोट Summary in Kannada 4
रोबोट Summary in Kannada 5

KSEEB SSLC Class 10 Hindi Solutions

Leave a Comment

error: Content is protected !!