KSEEB Class 8 Hindi रचना पत्र-लेखन

Students can Download KSEEB Class 8 Hindi रचना पत्र-लेखन, KSEEB Solutions for Class 8 Hindi helps you to revise the complete Karnataka State Board Syllabus and score more marks in your examinations.

Karnataka State Syllabus Class 8 Hindi रचना पत्र-लेखन

प्रश्न 1.
अपना प्रमाण पत्र अंक पत्र देने के लिए प्रार्थना करते हुए, अपनी पाठशाला के प्रधान अध्यापकजी
के नाम पर एक पत्र लिखिए ।
उत्तर :

ता: 25-05-2017
स्थल : चिंतामणि

प्रेषक

मानसी एस. आर
दसवीं कक्षा बी विभाग
चिंतामणि प्रौदशाला
चिंतामणि – 563125

सेवा में,

प्रधानाध्यापकजी
चिंतामणि प्रौढ़शाला
चिंतामणि – 563125

मान्यवर, विषय : प्रमाण पत्र और अंकपत्र देने के लिए प्रार्थना-पत्र सविनय निवेदन है कि मैं दसवऔं कक्षा वार्षिक परीक्षा में प्रथम श्रेणी के रूप में उत्तीर्ण हो चुका है। मैं अगले सप्ताह के अंदर कॉलेज में प्रवेश लेना चाहता हूँ। इसलिए कृपा करके जल्द-से-जल्द आदेश देकर मेरा प्रमाण पत्र और अंक पत्र दिला दीजिए।
धन्यवाद सहित,

आपकी आज्ञाकारी छात्रा
मानसी एस. आर

अभिभावक का हस्ताक्षर

प्रश्न 2.
अपने जन्म दिवस के अवसर पर घर बुलाते हुए अपने मित्र के नाम पर एक पत्र लिखिए ।
उत्तर :

ता: 25-05-2017
स्थल : सिड्लघट्टा

प्रिय मित्र चंद्रशेखर एम.एस.
नमस्कार,
मैं यहाँ कुशल हूँ। तुम्हारे कुशल के बारे में पत्र के द्वारा समझाइए। यहाँ पर मेरी पढ़ाई अच्छी तरह से चल रही है। यह पत्र लिखने का कारण यह है कि पिछले वर्ष की तरह मेरा जन्म दिवस इस वर्ष भी ता. 20-3-1986 को घर में धूम-धाम से मनाया जा रहा है। इसलिए आप माता-पिता के अनुमति लेकर एक दिन पहले घर ज़रूर आ जाना। यहाँ के सभी मित्र अच्छे हैं। हम सब एक जगह पर मिलने के बाद बैठकर मीठी-मीठी बातें भी करेंगे। घर में अपने माता-पिता को मेरा सादर प्रणाम कहना। मैं तुम्हारे पत्र का इंतज़ार में रहूंगा।

तुम्हारा प्रिय मित्र,
मूर्ति एम.एन.

प्रश्न 3.
तबीयत ठीक न होने के कारण बताते हुए तीन दिन की छुट्टी माँगते हुए प्रधानाध्यापक को एक पत्र लिखिए ।
उत्तर :

दिनांक: 25-05-2017
स्थल : चिक्कबल्लापुर

प्रेषक,

प्रतिमा आर.
आठवी कक्षा सरकारी प्रौढ़शाला
चिक्कबल्लापुर – 562106

सेवा में,

प्रधानाध्यापक
सरकारी प्रौढ़शाला
चिक्कबल्लापुर – 562106

आदरणीय महोदय,
विषय : चार दिन की छुट्टी के लिए प्रार्थना आठवीं कक्षा की छात्रा प्रतिमा, आपसे निवेदन करती हूँ कि मेरी तबीयत ठीक नहीं है। बहुत बुखार और खाँसी से तड़प रही हैं। डाक्टर की सलाह के अनुसार मुझे आराम लेने की ज़रूरत है। इसलिए 25-052017 से 28-05-2017 तक चार दिन की छुट्टी प्रदान करने की कृपा करें ।
सधन्यवाद

आपकी आज्ञाकारी छात्रा,
प्रतिमा आर

पोषक के हस्ताक्षर

4. अपनी पढ़ाई के बारे में बताते हुए अपने पिताजी को पत्र लिखिए।

अभिषेक
विद्योदय हाईस्कूल
दसवीं ‘डी’ विभाग
बेंगलूरु
मार्च 20, 2018

पूज्य पिताजी को सादर प्रणाम।

मैं यहाँ अच्छा हूँ। आप सब कैसे हैं? पत्र लिखिए।
इस पत्र के द्वारा मैं अपनी पढ़ाई के बारे में कुछ बताना चाहता हूँ पिताजी। अप्रैल महीने में हमारी अंतिम परीक्षा होनेवाली है। उसके लिए सब तैयारियाँ कर रहा हूँ। पिछले हफ्ते में हमारी सिद्धता परीक्षा हुई। उसमें मैंने 92% अंक पाये है। अंतिम परीक्षा के लिए और भी खूब पढ़ रहा हूँ। उसमें 95%-96% अंक पाने की कोशिश करूँगा। आप चिंता न करें। घर में पूज्य माताजी को मेरा सादर प्रणाम। प्रिय चंदना को मेरा शुभाशिष। अधिक समाचार के लिए आगे पत्र लिखूगा।

धन्यवाद,

आपका आज्ञाकारी पुत्र
अभिषेक

सेवा में
श्री मनोहर उपाध्याय
नं. 33, III क्रास, IV मैन,
चामुंडीपुरम्
मैसूरु – 570 004.

5. तीन दिन की छुट्टी माँगते हुए अपने.प्रधान अध्यापक के नाम एक पत्र लिखिए।
अथवा
अपनी बहन की शादी में शामिल होने के लिए छुट्टी माँगते हुए अपने प्रधानाध्यापक के नाम एक पत्र लिखिए।

प्रेषक
अनिल कुमार
दसवी कक्षा, ‘डी’ विभाग
रामेश्वर हाईस्कूल
हानगल
ता. 10 जनवरी 2018

सेवा में,
मान्य प्रधानाध्यापक
रामेश्वर हाईस्कूल
हानगल.

मान्य महोदय,

विषय : तीन दिन की छुट्टी माँगते हुए पत्र।

सादर प्रणाम।
सेवा में निवेदन है कि ता. 16-1-2018 से 18-1-2018 तक मेरे घर मेरी बहन का विवाह संपन्न होनेवाला है। अतः ये तीन दिन मैं स्कूल नहीं आ सकता हूँ। इसलिए आपसे प्रार्थना करता हूँ कि इन तीन दिनों की छुट्टी मंजूर करने की कृपा कीजिए।

धन्यवाद।

आपका विनम्र विद्यार्थी,
अनिल कुमार.

6. अपनी अस्वस्थता के कारण तीन दिनों की छुट्टी माँगते हुए अपने प्रधानाध्यापक को पत्र लिखिए।

प्रेषक,
वैनतेय अय्यंगार
दसवी कक्षा, ‘सी’ विभाग
उदयरवि हाईस्कूल
शिमोगा।
ता. 8 जनवरी 2018

सेवा में,
मान्य प्रधानाध्यापक
उदयरवि हाईस्कूल
शिमोगा।

मान्य महोदय,

विषय : तीन दिन की छुट्टी माँगते हुए पत्र।

सेवा में निवेदन है कि मैं बुखार से तड़प रहा हूँ। इसलिए डाक्टर ने आराम लेने की सलाह दी है। अतः मुझे ता. 10-12018 से 12-1-2018 तक छुट्टी मंजूर करने की कृपा कीजिए।

धन्यवाद।

आपका विनम्र विद्यार्थी
वैनतेय अय्यंगार

7. किताब-घर, एवेन्यू रोड़, बेंगलूर, इनके नाम पर ‘रामचरित मानस’ और गुरुनाथ जोशी कृत ‘हिन्दी-कन्नड़ कोश’ मँगाते हुए एक पत्र लिखिए।

प्रेषक,
अरविंद उपाध्याय
दसवी कक्षा, ‘डी’ विभाग
कॉर्निवल हाईस्कूल
जे.पी. नगर,
बेंगलूरु – 72.
ता. 16 अप्रैल 2018

सेवा में,
किताब-घर
एवेन्यू रोड़
बेंगलूरु – 1.

मान्य महोदय,

विषय : किताबों के लिए पत्र

सेवा में निवेदन है कि मुझे नीचे लिखी किताबों की आवश्यकता है। अतः इस पत्र के पहुंचते ही उन किताबों को वी.पी.पी. द्वारा भेजने की कृपा कीजिए।
1) रामचरितमानस – ले.: तुलसीदासजी – 3 प्रतियाँ
2) हिन्दी-कन्नड़ कोश – ले. गुरुनाथ जोशी – 2 प्रतियाँ
यथा शीघ्र ऊपर लिखित किताबों को भेजने की व्यवस्था कीजिए।

धन्यवाद।

भवदीय
अरविंद उपाध्याय

Leave a Comment