Karnataka Class 10 Hindi Solutions वल्लरी Chapter 2 कश्मीरी सेब

You can Download कश्मीरी सेब Questions and Answers Pdf, Notes, Summary Class 10 Hindi Karnataka State Board Solutions to help you to revise complete Syllabus and score more marks in your examinations.

कश्मीरी सेब Questions and Answers, Notes, Summary

अभ्यास

I. एक वाक्य में उत्तर लिखिए:

प्रश्न 1.
लेखक चीजें खरीदने कहाँ गये थे?
उत्तर:
लेखक चीजें खरीदने चौक के बाजार में गये थे।

प्रश्न 2.
लेखक को क्या नजर आया?
उत्तर:
लेखक को एक दुकान पर बहुत अच्छे रंगदार गुलाबी सेब नजर आए।

प्रश्न 3.
लेखक का जी क्यों ललचा उठा?
उत्तर:
रंगदार सेब देखकर लेखक का जी ललचा उठा।

प्रश्न 4.
टोमाटो किसका आवश्यक अंग बन गया है?
उत्तर:
टोमाटो भोजन का आवश्यक अंग बन गया है।

प्रश्न 5.
स्वाद में सेब किससे बढ़कर नहीं है?
उत्तर:
स्वाद में सेब आम से बढ़कर नहीं है।

प्रश्न 6.
रोज एक सेब खाने से किनकी जरूरत नहीं होगी?
उत्तर:
रोज एक सेब खाने से डॉक्टर की जरूरत नहीं होगी।

II. दो-तीन वाक्यों में उत्तर लिखिए:

प्रश्न 1.
आजकल शिक्षित समाज में किसके बारे में विचार किया जाता है?
उत्तर:
आजकल शिक्षित समाज में विटामिन और प्रोटीन के शब्दों में विचार करने की प्रवृति हो गई है। टोमाटो और गाजर को पहले कोई भी नहीं पूछता था। अब टोमाटो भोजन का आवश्यक अंग बन गया है। गाजर को भी मेजों पर स्थान मिलने लगा है।

प्रश्न 2.
दुकानदार ने लेखक से क्या कहा?
उत्तर:
दुकानदार ने लेखक से कहा कि सेब ताजे हैं। यह खास कश्मीर के हैं और उसे खाकर तबियत खुश हो जायेगी।

प्रश्न 3.
दुकानदार ने अपने नौकर से क्या कहा?
उत्तर:
लेखक रुमाल निकालकर दुकानदार को देते हुए कहा कि सेब चुन-चुनकर रखना। दुकानदार ने तराजू उठायी और अपने नौकर से कहा, आध सेर कश्मीरी सेब निकाल ला। चुनकर लाना।

प्रश्न 4.
सेब की हालत के बारे में लिखिए।
उत्तर:
लेखक ने आधे सेर कश्मीरी सेब खरीदे थे। उसमें चार सेब थे। सुबह नाश्ता करने के लिए लेखक ने एक सेब निकाला तो वह सड़ा हुआ था। दूसरा आधा सड़ा हुआ था। तीसरा एक तरफ से दबकर पिचक गया था। चौथे में काला सुराख था। काटा तो भीतर वैसे ही धब्बे, जैसे बेर में होते हैं। एक सेब भी खाने लायक नहीं था।

III. जोडकर लिखिए:

1. सेब को रुमाल में बाँधकर अ. प्रातःकाल है।
2. फल खाने का समय तो आ. मुझे दे दिया।
3. एक सेब भी खाने इ. बनी हुई थी।
4. व्यापारियों की खास ई. लायक नहीं ।

उत्तर – जोडकर लिखना:

1. सेब को रुमाल में बाँधकर आ. मुझे दे दिया।
2. फल खाने का समय तो अ. प्रातःकाल है।
3. एक सेब भी खाने ई. लायक नहीं ।
4. व्यापारियों की खास इ. बनी हुई थी।

IV. विलोम शब्द लिखिए:

  1. शाम
  2. खरीदना
  3. बहुत
  4. अच्छा
  5. शिक्षित
  6. आवश्यक
  7. गरीब
  8. रात
  9. संदेह
  10. साफ
  11. बेईमान
  12. विश्वास
  13. सहयोग
  14. हानि
  15. पास
  16. गम

उत्तर:

  1. शाम x सुबह
  2. खरीदना x बेचना
  3. बहुत xथोडा
  4. अच्छा x बुरा
  5. शिक्षित xअशिक्षित
  6. आवश्यक x अनावश्यक
  7. गरीब x अमीर
  8. रात x दिन
  9. संदेह x निःसंदेह
  10. साफ x गंदा
  11. बेईमान x ईमान
  12. विश्वास x अविश्वास
  13. सहयोग x असहयोग
  14. हानि X लाभ
  15. पास x दूर
  16. गम x खुशी

V. अनुरूपता:

  1.  केला : पीला रंग :: सेब : …………
  2.  सेब : फल :: गाजर : …………….
  3. नागपूर : संतरा :: कश्मीर : …………
  4. कपडा : नापना :: टोमाटो : ………….

उत्तर:

  1. लाल रंग
  2. सब्जी सेब
  3. सेब
  4. तोलना

VI. अन्य वचन लिखिए:

  1. चीजें
  2. रास्ता
  3. फल।
  4. घर
  5. रुपए
  6. आँखें
  7. कर्मचारी
  8. व्यापारी
  9. रेवडी
  10. दुकान

उत्तर:

  1. चीजें – चीज
  2. रास्ता – रास्ते
  3. फल – फल
  4. घर – घर
  5. रुपए – रुपया
  6. आँखें – आँख
  7. कर्मचारी – कर्मचारीवर्ग
  8. व्यापारी – व्यापारीवर्ग
  9. रेवडी – रेवडियाँ
  10. दुकान – दुकानें

VII. प्रत्येक शब्द के अंतिम अक्षर से एक और शब्द बनाइए:

प्रश्न 1.
उदा- सेब – बन्दर – रंग – गरम

  1. दुकान।
  2. बाजार
  3. रुमाल
  4. लेखक

उत्तर:

  1. दुकान नयन नगद दवात तलवार
  2. बाजार रंक कमल लाभ भजन
  3. रुमाल लहर रस सम्मान नरम
  4. लेखक कनक कर रक्षक कक्षा

VIII. निम्नलिखित वाक्यों को सही क्रम से. लिखिए:

प्रश्न 1.
गाजर गरीबों भी पहले के पेट की चीज भरने थी।
उत्तर:
गाजरं भी पहले गरीबों के पेट भरने की चीज थी।

प्रश्न 2.
अब चीज नहीं है वह केवल स्वाद की।
उत्तर:
अब वह केवल स्वाद की चीज नहीं है।

प्रश्न 3.
नहीं लायक खाने भी सेब एक।
उत्तर:
एक सेब भी खाने लायक नहीं।

प्रश्न 4.
मालूम हुई घर आकर अपनी भूल।
उत्तर:
घर आकर अपनी भूल मालूम हुई।

IX. कन्नड या अंग्रेजी में अनुवाद कीजिए:

प्रश्न 1.
गाजर भी पहले गरीबों के पेट भरने की चीज थी।
उत्तर:
KSEEB Solutions for Class 10 Hindi वल्लरी Chapter 2 कश्मीरी सेब 1
Earlier carrot was food of poor people.

प्रश्न 2.
दुकानदार ने कहा- बडे मजेदार सेब आये हैं।
उत्तर:
KSEEB Solutions for Class 10 Hindi वल्लरी Chapter 2 कश्मीरी सेब 2
Shopkeeper informed that good quality apples are available.

प्रश्न 3.
एक सेब भी खाने लायक नहीं । |
उत्तर:
KSEEB Solutions for Class 10 Hindi वल्लरी Chapter 2 कश्मीरी सेब 3
Not even an apple was fit for consumption.

प्रश्न 4.
दुकानदार ने मुझसे क्षमा माँगी । |
उत्तर;
KSEEB Solutions for Class 10 Hindi वल्लरी Chapter 2 कश्मीरी सेब 4
Shopkeeper asked for my pardon.

कश्मीरी सेब Summary in English

Kashmiri Apple Summary in English:

In this lesson, the writer has narrated an instance where he was cheated by a fruit Vendor and has cautioned the customer to the alert while buying goods in the market.

The writer goes to the market to purchase certain items. He was attracted by the colourful apples in the shop. Nowadays people are more cautious about their health our body consumed tomato earlier but now there is a great demand. Similarly, the carrot was a poor man’s food, now rich people are after carrot due to its health benefits .considering all these factors the writer decides to purchase apple fruit nutritions qualities.

The Vendor announced the availability of the good quality of Kashmiri apple. The writer asked the Vendor to tie the apples in a handkerchief

The next day morning the writer took out an apple for breakfast and formed that it was rotten. He felt that the Vendor had not noticed this. But the second one was also spoiled. Then the writer suspected cheating by the Vendor. The third and fourth apples where also not fit for consumption

The writer was not worried about the money. He was sad that the vendor had cheated him. The writer felt that he had also Contributed to this cheating. He should have purchased the fruits after scrutiny. People will cheat given an opportunity. Hence the person giving an opportunity to cheat is also equally responsible for the cheating.

The writer felt earlier times it was hot like this. If excess money was paid it would be returned promptly.

Hence, the writer calls for awareness among customers, otherwise, the customers are vulnerable to cheating them like the writer.

कश्मीरी सेब Summary in Kannada

कश्मीरी सेब Summary in Kannada 1
कश्मीरी सेब Summary in Kannada 2
कश्मीरी सेब Summary in Kannada 3

KSEEB SSLC Class 10 Hindi Solutions

Leave a Comment